Porcupyn's Blog

June 14, 2014

Songs of the 1970s – my favourites – 3

Filed under: Music — Porcupyn @ 11:59 pm

kal kii haseen mulaakaat ke liye – Lyrics from giitaayan

good night
ल : कल की हसीं मुलाक़ात के लिए
आज रात के लिए
हम-तुम जुदा हो जाते हैं
अच्छा चलो सो जाते हैं
कि : कल की हसीं मुलाक़ात …

आप
नींद नहीं क्या आई
ल : नींद मेरी आप ने चुराई
मैं तो नहीं सोई आधी रात होई
आपको हुआ क्या ख़ास वजह कोई
कि : अकेले में हम घबरा गए
चले गए थे फिर आ गए
तो माफ़ करना इस बात के लिए
आज रात के लिए …

ल : आप
अब है क्या मजबूरी
कि : हाँ
काम था एक ज़रूरी
ल : लम्बी-लम्बी रातें छोटी मुलाक़ातें
कि : भूल गया था मैं दो-चार बातें
ल : बातों से न दिल अपना भरे
आँखों में कई सपने भरे
तो सपनों की इस बारात के लिए
आज रात के लिए …

कि : मैं आया आप जाते हैं
ल : हम आपसे शरमाते हैं
कि : मैं तो हूँ दीवाना मैं ये नहीं जाना
हमसे शर्म क्या क्या है बहाना
ल : देखो हम थे अजनबी
हो गई मगर अब दोस्ती
बदले हुए हालात के लिए
आज रात के लिए …

Leave a Comment »

No comments yet.

RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: