Porcupyn's Blog

August 16, 2014

Songs of the 1970s – my favourites – 68

Filed under: Music — Porcupyn @ 11:59 pm

baagon men bahaar aai – lyrics from giitaayan

लता:
ओ ओ ओ
बक्शी:
ओओ ओ, ओओ

बक्शी:
बाग़ों में बहार आई, होंठों पे पुकार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरी रानी
लता:
रुत बेक़रार आई
रुत बेक़रार आई, डोली में सवार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरे राजा
बक्शी:
बाग़ों में बहार आई, होंठों पे पुकार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरी रानी

बक्शी:
फूलों की गली में आईं भँवरों की टोलियाँ, भँवरों की टोलियाँ
दिये से पतंगा खेले आँख-मिचौलियाँ
बोले ऐसी बोलियाँ कि प्यार जागा जग सो गया
लता:
रुत बेक़रार आई, डोली में सवार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरे राजा
बक्शी:
बाग़ों में बहार आई

लता:
सपना तो सपनों की बात है प्यार में, बात है प्यार में
नींद नहीं आती सैंया तेरे इंतज़ार में
होके बेक़रार तुझे ढूँढ़ूँ मैं तू कहाँ खो गया
बक्शी:
बाग़ों में बहार आई, होंठों पे पुकार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरी रानी
लता:
आजा मेरे राजा

बक्शी:
लंबी-लंबी बातें छेड़ें छोटी-सी रात में, छोटी-सी रात में
लता:
सारी बातें कैसी होंगी इक मुलाक़ात में
एक ही बात में लो देख लो सवेरा हो गया
बक्शी:
बाग़ों में बहार आई, होंठों पे पुकार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरी रानी
लता:
रुत बेक़रार आई, डोली में सवार आई
आजा आजा आजा, आजा मेरे राजा
बक्शी:
आजा मेरी रानी
लता:
आजा मेरे राजा

Leave a Comment »

No comments yet.

RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: