Porcupyn's Blog

September 1, 2014

Songs of the 1970s – my favourites – 84

Filed under: Music — Porcupyn @ 11:59 pm

beshaq ma.ndir masjid to.De, bulleshaah ye kahataa – lyrics from giitaayan

(बेशक़ मंदिर मस्जिद तोड़े, बुल्लेशा ये कहता) – 2
पर प्यार भरा दिल कभी न तोड़ो…
इस दिल में दिलवर रहता
जिस पलड़े में तुले मोहब्बत…
जिस पलड़े में तुले मोहब्बत
उसमें चाँदी नहीं तौलना
तौबा मेरी ना डोलना मैं नी बोलना
ओ नहीं बोलना जा, मैं नहीं बोलना जा
ओ मैं नहीं बोलना जा, डोलना मैं नी बोलना
तौबा मेरी न डोलना मैं नी बोलना

आग ते इश्क़ बराबर दोनो, पर पानी आग बुझाए – (2)
आशिक़ के जब आँसू निकले, और अगन लग जाए
तेरे सामने बैठके रोना…
ओ तेरे सामने बैठके रोना दिल का दुखड़ा नहीं टोलना
डोलना मैं नी बोलना
ओ नहीं बोलना जा, मैं नहीं बोलना जा
वे मैं नहीं बोलना जा, बोलना मैं नी बोलना
तौबा मेरी न डोलना मैं नी बोलना
वे मैं नहीं बोलना, ओ वे मैं नहीं बोलना
वे मैं नहीं बोलना, ते मैं नहीं बोलना
नहीं बोलना, डोलना मैं नी बोलना
नहीं बोलना, नहीं बोलना…

Leave a Comment »

No comments yet.

RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Create a free website or blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: